Vikas Dubey Encounter पर बोले अखिलेश यादव, ‘ये कार नहीं पलटी…

0
305
Akhilesh Yadav on Vikas Dubey Encounter
Akhilesh Yadav on Vikas Dubey Encounter

नई दिल्ली/पूजा शर्मा। कानपुर गोलीकांड का मुख्य आरोपी विकास दुबे शुक्रवार को पुलिस एनकाउंटर में मारा गया है. पुलिस के मुताबिक एसटीएफ मध्य प्रदेश के उज्जैन से जब उसे कानपुर लेकर आई तो गाड़ी रास्ते में ही पलट गई. मौका देखते ही विकास दुबे ने पुलिस का हथियार छीनकर भागने की कोशिश की. इस दौरान पुलिस और विकास दुबे के बीच गोलियां चली. जहां आरोपी गंभीर रूप से घायल हो गया और अस्पताल ले जाने के बाद डॉक्टरो ने उसे मृत घोषित कर दिया. इस एनकाउंटर पर यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर निशाना साधा है.

ये भी पढ़ें विकास दुबे : एनकाउंटर में मारा गया 8 पुलिसकर्मियों की मौत का हत्यारा

इस वाकये के बाद सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने योगी सरकार और पुलिस व्यावस्था पर कई सवाल खड़े करते हुए निशाना साधा है. अखिलेश ने अपने ट्वीट में उस वाहन के दुर्घटनाग्रस्त होने पर सवाल उठाए हैं, जिसमें विकास दुबे को उज्जैन से कानपुर लाया गया था. उन्होंने अपने एक ट्वीट में लिखा, दरअसल ये कार नहीं पलटी है, राज़ खुलने से सरकार पलटने से बचाई गई है

ये भी पढ़ें गाड़ी पलटने पर हथियार छीनकर भागने की कोशिश कर रहा था विकास दुबे

आपको बता दें कि कानपूर एनकाउंटर के बाद से ही आरोपी विकास 6 दिन तक फरार रहा. गुरुवार की सुबह विकास दुबे को मध्य प्रदेश के उज्जैन के महाकाल मंदिर परिसर से गिरफ्तार किया गया था. गिरफ्तारी के बाद पुलिस उससे लगातार पूछताछ की. इस दौरान उसने कई बड़े खुलासे किए. विकास दुबे ने कहा कि वह पुलिसकर्मियों की हत्या के बाद शवों को जलाना चाहता था. जलाने के लिए शवों को एक जगह इकट्ठा किया गया था और तेल का इंतजाम भी कर लिया गया था. विकास ने पुलिसकर्मियों के संपर्क में होने की बात भी कही. विकास दुबे ने कहा कि हमें सूचना थी कि पुलिस सुबह आएगी. पुलिस रात में ही छापेमारी के लिए आ गई. डर था कि पुलिस एनकाउंटर कर देगी. विकास ने पूछताछ के दौरान ये भी बताया कि सीओ देवेंद्र मिश्र से उसकी नहीं बनती थी, कई बार देवेंद्र मिश्रा ने देख लेने की धमकी दी थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here