Vastu shastra: घर में रखें गंगा जल से दूर करें वास्तु दोष , जानें उपाय

0
298

नई दिल्ली/पूजा शर्मा। हिन्दू धर्म के अनुसार गंगा नदी को मां का दर्जा दिया गया है. गंगा मां के जल को पवित्र जल माना गया है. मान्यता है कि गंगा में डुबकी लगाने से मनुष्य के पापों का नाश होता है और हमारे पितृ देवताओं को दोष मुक्ति प्राप्त होती है. इतना ही नहीं बल्कि अलावा मान्यता यह भी है कि गंगा जल कभी भी खराब नहीं होता है. गंगा मां का चमत्कार है कि जल से किसी भी चीज को शुद्ध किया जा सकता है. इन्हीं मान्यताओं को देखते हुए वास्तु शास्त्र में भी गंगाजल के प्रयोग से कई दोषों को दूर करने के उपायों के बारे में बताया गया है. आइए तो जानते है गंगा जल से कौन कौन से दोषों को दूर किया जा सकता है.

ये भी पढ़ें Vastu shastra: इन 5 गलतियों की वजह से घर में हो सकती है अर्थिक तंगी, रखें ध्यान

वास्तुदोष होगा दूर

घर में नियमित गंगाजल का छिड़काव करने से वास्तुदोष दूर हो जाते हैं और सकारात्मक ऊर्जा का प्रवेश होता है. इतना ही नहीं बल्कि गंगा जल से घर में रखी बाकि चीजों को भी शुद्ध कर सकते है. हम सभी के घरों में कोई न कोई वास्तुदोष जरुर होता है जिसे हम चाह कर भी दूर नहीं कर पाते हैं. इसके लिए गंगा जल एक अच्छा उपाय है.

डरावने सपनों से बचाव

रात को सोते समय कभी-कभी हमें डरावने सपने आ जाते है. जिसकी वजह से हम परेशान हो जाते हैं और कई दिनों तक नींद नही आती है. कई बार बड़ो के साथ-साथ बच्चों को भी डरावने सपने आते हैं जिसकी वजह से उनकी तबियत खराब हो जाती है. डरावने सपनों से बचने के लिए भी गंगा जल काम आता है. सोने से पहले बिस्तर पर गंगाजल छिड़क दें तो डरावने सपने नहीं आते हैं.

ये भी पढ़ें Vastu shastra: घर के मंदिर में न रखें एक भगवान की दो तस्वीरें, हो सकता है बड़ा नुकसान

घर में रहेगी सुख शांति

गंगाजल को घर में रखने से हमेशा सुख-संपदा बनी रहती है. गंगा जल को लंबे समय के लिए रखा जा सकता है. गंगा जल को घर में रखने से सकारात्मक ऊर्जा भी बनी रहती है. घर में आने वाली बुरी चीजों के प्रभाव को भी कम करती है.

भगवान होंगे खुश

गंगाजल अर्पित करने से भगवान शिव प्रसन्न होते हैं और आपको सुख-समृद्धि प्राप्त होती है. यदि घर के मंदिर के भगवानों को भी गंगा जल से सन्नान कराया जाए तो वह भी प्रसन्न होते हैं.

ये भी पढ़ें Vastu shastra: सावन में ये काम करने से चमकेगा किस्मत का सितारा, भगवान शिव का होगा वास

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here