Surya Grahan : साल का सबसे बड़ा सूर्य ग्रहण शुरू, कई जगह छा सकता है अंधेरा

0
240
surya Grahan 2020
surya Grahan 2020

नई दिल्ली/पूजा शर्मा। इस साल का पहला सूर्य ग्रहण 21 जून 2020 को सुबह करीब 9 बजकर 15 से शुरू हो गया है. यह ग्रहण दोपहर 03 बजकर 04 मिनट तक रहने वाला है. ग्रहण का सूतक काल 12 घंटे पहले यानी 20 जून को रात करीब 9 बजकर 25 मिनट से लग चुका है. ग्रहण में सूतक काल काफी अहम माना जाता है. जिस दौरान बहुत से कार्य वर्जित माने जाते हैं. इस समय आपको जिन कार्यो को करने से बचना है वो हम आपको बता देते है.

ये भी पढ़ें सूर्य ग्रहण के दौरान हमें इन चीजों से रहना चाहिए सावधान

ग्रहण के दौरान इन बातों का रखें ध्यान

सूर्य ग्रहण के दौरान किसी भी प्रकार के खाद्य पदार्थ का सेवन न करें
सूतक काल लगने के बाद किसी भी तरह का नया काम या शुभ कार्य करने से परहेज करना चाहिए
घर मकान का निर्माण, वाहन की खरीदारी या शादी-विवाह की तैयारियों के बारे में ना सोचें
ग्रहण का सूतक काल लगने के बाद नुकीली चीजों का इस्तेमाल करना अशुभ माना जाता है
सूतक लगने के बाद मंदिरों के कपाट बंद हो जाते हैं
सूतक के दौरान पूजा-पाठ नहीं करनी चाहिए और भगवान की मूर्तियों को हाथ से स्पर्श भी नहीं करना चाहिए

ये भी पढ़ें International Yoga Day 2020 : आखि़र कैसे हुई अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की शुरुआत
ग्रहण का सूतक काल लगने के बाद पेड़, पौधों और पत्तों को नहीं तोड़ना चाहिए
सूतक लगने के बाद यदि किसी को खाना परोसें भी तो उसमें तुलसी का पत्ता जरूर डालें
बालों पर कंघी करना, दांतून करना या नाखून काटना भी सूतक के दौरान अशुभ माना जाता है
सूतक के दौरान आप धार्मिक पुस्तकों को पढ़ें
गर्भवती महिलाओं को ग्रहण की घटना को देखने से भी बचना चाहिए
ग्रहण काल लगने के बाद गर्भवती महिलाएं ग्रहण खत्म होने तक धातुओं से निर्मित वस्तुओं को न पहनें और न ही उनका प्रयोग करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here