Rahasya : भारत का एक ऐसा मंदिर, जहां प्रसाद के तौर पर सोने के आभूषण मिलते हैं

0
274
Rahasya pratibimb news

नई दिल्ली/दीक्षा शर्मा। (Rahasya) भारत को अगर देवी देवताओं का निवास माना जाए तो इसमें कुछ गलत नहीं है. भारत को शुरू से ही मंदिरों का स्थान माना गया है. यहां अनगिनत मंदिर मौजूद हैं, हर गली मुहल्ले में छोटे बड़े मंदिर देखने को मिल जाते हैं. दर्शन करने के बाद भक्तों को प्रसाद मिलना आम बात है. प्रसाद के रूप में मिश्री, मखाने, लड्डू, नारियल,चरणामृत एवं मिठाई मिलती है, लेकिन आप यह जानकर आश्चर्य में पड़ जाएंगे कि भारत में एक ऐसा मंदिर नहीं जहां दर्शन के बाद भक्तों को प्रसाद में सोने के आभूषण दिए जाते हैं. यहाँ भक्तों द्वारा सोने के जेवरात भी भेंट किये जाते हैं और इन्ही जेवरातों से माँ लक्ष्मी को सजाया जाता है. इस मंदिर की ये अनोखी परम्परा कई सालों से चली आ रही है.

ये भी पढ़ें Rahasya : सनातन धर्म में महिलाओं क नारियल फोड़ना के लिए क्यों है मनाही, जानिए धार्मिक कारण

भारत का यह मंदिर मध्यप्रदेश के रतलाम में एक सुप्रसिद्ध महालक्ष्मी का मंदिर है जहाँ पूरे साल भक्तों का तांता लगा रहता है. यहां पर भक्त करोड़ों रुपयें और जेवर चढ़ाते है. खासतौर पर धनतेरस से लेकर दीपावली के दिनों में दर्शन करने आये भक्त जेवर और नोटों की माला माता के दरबार में चढ़ाते है. पूरा मंदिर जेवरों और नोटों की माला से सज़ा होता हैं.

ये भी पढ़ें Rahasya : किस कारण भगवान शिव को लेना पड़ा अर्द्धनारीश्वर रूप, जानिए

आने वाले भक्तों को भेंट के रूप में आभूषण मिलते हैं. इस मंदिर कि यह परम्परा सदियों से चलती आ रही है. लेकिन बता दें कि यह प्रसाद केवल दीवाली के दिनों में मिलता है जब कुबेर का दरबार सजाया जाता है. इन दिनों पूरे साल के अर्पित किए हुए आभूषण भक्तों में बांट दिए जाते हैं.

ये भी पढ़ें Rahsya : क्या आप जानते हैं मोर ही क्यों बना भारत का राष्ट्रीय पक्षी, जानिए

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here