पीएम मोदी ने किया विश्व की सबसे बड़ी सुंरग का उद्घाटन, जानिए खासियत

0
160
pratibimb news
pratibimb news

नई दिल्ली/आशीष भट्ट। पीएम मोदी ने आज अटल टनल, रोहतांग का उद्घाटन किया, इसकी लम्बाई 9 किलोमीटर की है और इससे बनने से हिमाचल प्रदेश वासियों का काफी लाभ होगा, हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले में मनाली-लेह मार्ग पर सामरिक महत्व की 9.02 किलोमीटर लंबी अटल टनल रोहतांग का शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लोकार्पण कर दिया, पीर-पंजाल की पहाड़ी पर 3200 करोड़ की लागत से बनी यह टनल दुनिया की सबसे ऊंचाई 0040 फीट पर हाईवे पर बनी है.

इस मौके पर पीएम ने कहा कि, आज सिर्फ अटल जी का ही सपना नहीं पूरा हुआ है, आज हिमाचल प्रदेश के करोड़ों लोगों का भी दशकों पुराना इंतजार खत्म हुआ है, इस टनल से मनाली और केलॉन्ग के बीच की दूरी 3-4 घंटे कम हो ही जाएगी, पहाड़ के मेरे भाई-बहन समझ सकते हैं कि पहाड़ पर 3-4 घंटे की दूरी कम होने का मतलब क्या होता है, हमेशा से यहां के इंफ्रास्ट्रक्चर को बेहतर बनाने की मांग उठती रही है.

पीएम ने आगे कहा कि, लेकिन लंबे समय तक हमारे यहां बॉर्डर से जुड़े इंफ्रास्ट्रक्चर के प्रोजेक्ट या तो प्लानिंग की स्टेज से बाहर ही नहीं निकल पाए या जो निकले वो अटक गए, लटक गए, भटक गए साल 2002 में अटल जी ने इस टनल के लिए अप्रोच रोड का शिलान्यास किया था, अटल जी की सरकार जाने के बाद, जैसे इस काम को भी भुला दिया गया, हालात ये थी कि साल 2013-14 तक टनल के लिए सिर्फ 1300 मीटर का काम हो पाया था, एक्सपर्ट बताते हैं कि जिस रफ्तार से 2014 में अटल टनल का काम हो रहा था.

पीएम ने बताया कि, अगर उसी रफ्तार से काम चला होता तो ये सुरंग साल 2040 में जाकर पूरा हो पाती, आपकी आज जो उम्र है, उसमें 20 वर्ष और जोड़ लीजिए, तब जाकर लोगों के जीवन में ये दिन आता, उनका सपना पूरा होता, जब विकास के पथ पर तेजी से आगे बढ़ना हो, जब देश के लोगों के विकास की प्रबल इच्छा हो, तो रफ्तार बढ़ानी ही पड़ती है, अटल टनल के काम में भी 2014 के बाद, अभूतपूर्व तेजी लाई गई, नतीजा ये हुआ कि जहां हर साल पहले 300 मीटर सुरंग बन रही थी, उसकी गति बढ़कर 1400 मीटर प्रति वर्ष हो गई, सिर्फ 6 साल में हमने 26 साल का काम पूरा कर लिया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here