भारत की कूटनीतिक जीत: कनाडा सरकार ने कहा “खालिस्तान रेफरेंडम” का कोई महत्व नहीं

0
259
canada government

नई दिल्ली/दीक्षा शर्मा। भारत में अलग खालिस्तान रेफरेंडम की मांग के लिए ‘पंजाब 2020 रेफरेंडम’ को कनाडा सरकार ने खरिज कर दिया है. कनाडा की सरकार ने साफतौर पर कहा कि वह भारत की एकता, अखंडता और संप्रभुता का सम्मान करता है और ऐसे किसी भी रेफरेंडम का कोई महत्व नहीं है. उन्होंने कहा वो ऐसे किसी भी कोशिश को पहचान नहीं देंगी.

ये भी पढ़ें Shushant suicide case: पीएम मोदी को मिली सुब्रमण्‍यम स्वामी की चिट्ठी, ऐक्‍शन का इंतज़ार

दरअसल, अमेरिका स्थित सिखों का यह अलगाववादी समूह भारत में सिखों के लिए अलग खालिस्तान राज्य की मांग कर रहा है. सिख नेताओं के कनाडा सरकार के इस फैसले की भारत की कूटनीतिक जीत बताया है.

ये भी पढ़ें Kargil Vijay Diwas : मन की बात में बोले पीएम – पाकिस्तान ने पीठ में छुरा घोंपने की कोशिश की, पढ़ें बड़ी बातें

कथित तौर पर इस साल नवंबर में होने वाले पंजाब 2020 नामक रेफरेंडम के बारे में कनाडा के विदेश मंत्री के प्रवक्ता ने कहा कि कनाडा भारत की एकता, संप्रभुता और अखंडता का सम्मान करता है. कनाडा सरकार ऐसे किसी रेफरेंडम को महत्व या पहचान नहीं देगी.

ये भी पढ़ें Kargil Vijay Diwas पर बोले पीएम मोदी, कहा – उनकी वीरता पीढ़ियों को प्रेरित करती है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here