30 जून तक के सभी रेल टिकट रद्द, स्पेशल ट्रेन पर नहीं पड़ेगा असर

0
395
  • भारतीय रेलवे का बड़ा अपडेट
  • 30 जून तक सभी पैसेंजर ट्रेनों के टिकट रद्द
  • 21 जून तक यात्री पा सकेंगे रिफंड
  • श्रमिक और स्पेशल ट्रेन रहेंगी जारी


नई दिल्ली/दीक्षा शर्मा। कोरोना महामारी के इस संकट के बीच एक बार फ़िर रेल सेवा शुरू हो गई है लेकिन अभी कुछ स्पेशल और श्रमिक ट्रेन ही चलाई जा रही है. रेलवे ने नियमित ट्रेनों में 30 जून तक की यात्रा के लिए बुक पुराने सभी टिकट रद्द करने और पूरे रिफंड का फैसला लिया है. हालांकि इस बीच शुरू में श्रमिक और स्पेशल ट्रेन चलती रहेंगी और उन पर कोई असर नहीं पड़ेगा. रेलवे कि तरफ से जिन टिकट को रद्द करने का फैसला किया गया है, वे लॉकडाउन के उस समय बुक किए गए थे, जब रेलवे ने जून में यात्रा की अनुमति दी थी.

बता दें कि देश में लॉक डाउन की वज़ह से करीब 2 महीनों से ट्रेन सेवा पूरी तरह ठप है. ऐसे में जिन लोगों ने पहले टिकट बुक करवा दिए थे, उनकी टिकट को रद्द कर दिया गया है. साथ ही भारतीय रेलवे ने ये फैसला लिया है कि 30 जून तक की बुकिंग टिकट का पैसा सभी यात्रियों को 21 जून तक रिफंड कर दिया जाएगा. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक रेलवे ने कहा कि कोरोना के लक्षणों के कारण जिन यात्रियों को स्पेशल ट्रेन में सफ़र करने के अनुमति नहीं दी जा रही , उनके पूरे रुपये लोटा दिए जाएंगे. यहां तक कि टिकट बुक कराने वाले सभी यात्रियों के डेस्टिनेशन का रिकॉर्ड रखना शुरू कर दिया है.

रेलवे की ओर से सूचना जारी

रेलवे ने इससे पहले 17 मई तक ट्रेनों के टिकट कैंसल किए थे लेकिन अब रेलवे ने 30 जून तक सभी यात्रियों की टिकटों को कैंसल करने का फैसला लिया है. रेलवे मंत्रालय ने बुक करें हुए टिकट और उनके रिफंड के लिए गाइडलाइंस जारी की है. रेलवे ने वो सभी टिकट कैंसल कर दिए जो, 21मार्च के बाद बुक कराए गए थे. ट्रेन ने कहा कि जल्द ही राजधानी और शताब्दी ट्रेन शुरू की जाएगी. ये ट्रेन 22 मार्च से चलेंगी और इनकी 15 मई से बुकिंग शुरू होगी. रेलवे के मुताबिक इसमें आईआरसीटीसी के वेबसाइट के जरिए ही बुकिंग होगी. फ़िलहाल ट्रेनों में आरएसी टिकट नहीं मिलेगी, लेकिन वेटिंग टिकट मिलेगी.

कोरोना वायरस का रेलवे पर असर

बता दें कि कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए पूरे देश में 24 मार्च से लॉक डाउन करने के साथ ही पैसेंजर ट्रेनों का संचालन भी रोक दिया गया था। इस बीच मालगाड़ियां ज़रूरी सामान की पूर्ति के लिए दौड़ती रहीं. इसके बाद रेलवे ने नई दिल्ली से श्रमिकों के लिए 15 जोड़ी स्पेशल ट्रेन शुरू कराई थी.फ़िलहाल काफ़ी एहतियात और जांच पड़ताल के बाद यात्री इन ट्रेन में सफ़र कर रहे है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here