तूफान ‘अम्फान’ (Amphan) ले सकता है भीषण रूप, मचा सकता है बड़े स्तर पर तबाही

0
440

नई दिल्ली/आशीष भट्ट। कोरोना का कहर जारी होने के साथ ही तूफान ‘अम्फान’ (amphan cyclone update) एक बड़ी चुनौती बना हुआ है, यह तूफान (Super Cyclone) 195 किलो मीटर/घंटे की रफ्तार से आगे बढ़ रहा है, जिसकी वजह से लोग और सरकार दोनों परेशान है, जानकारों का मानना है यह तूफान 2014 में आये ‘हुदहुद’ तूफान से भी ज्यादा खतरनाक हो सकता है और तबाही वाला हो सकता है आपको बता दें 2014 में ‘हुदहुद’ तूफान ने पश्चिम बंगाल, ओडिशा, के अलावा उत्तरप्रदेश समेत कई राज्यों में भयंकर तबाही मचाई थी.

कहां कहां मचा सकता है तबाही

यह तूफान (Amphan) इतना भयावह है कि सरकारों के लिए चिंता का सबब बना हुआ है, जानकारों के मुताबिक यह तूफान आंध्रप्रदेश, ओडिशा, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, असम के तटीय क्षेत्रों से टकरा सकता है, मौसम विभाग ने इन इलाकों में 21 मई तक भारी बारिश होने की चेतावनी दी है.

बंगाल में कर सकता है भीषण तबाही

जानकारों का मानना है कि अम्फान तूफान (Cyclone Amphan) 19-20 मई को पश्चिम बंगाल और बांग्लादेश के तटों में टकरा सकता है, इस तबाही को रोकने के लिए NDRF की 53 टीमें तैनात की गई हैं, समुद्र तटों में बसे सारे गांव खाली करा दिए गए है और इलाकों को प्रतिबंधित कर दिया गया है.

अम्फान क्यों है इतना खतरनाक

NDRF के महानिदेशक ने बताया कि अम्फान (Amphan) को हल्के में नहीं लिया जा सकता, क्योंकि ऐसा दूसरी बार हो रहा है जब बंगाल की खाड़ी में आये इतने भयंकर तूफान (Super Cyclone) का भारत सामना कर रहा है, NDRF के महानिदेशक का मानना है कि इस तूफान से भीषण क्षति पहुंच सकती है.

इतनी तेज होगी रफ्तार

मौसम विभाग के महानिदेशक एम. महापात्रा ने बताया कि तट से टकराने के दौरान इस तूफान (Amphan) की रफ्तार 190 से 200 किलोमीटर/घण्टे रह सकती है, और यह वहां रहने वाली आबादी को भी प्रभावित करेगा, एम. महापात्रा ने बताया कि यह तूफान 1999 में ओडिशा के तट पर आए प्रचंड तूफान की तरह ही है.

ओडिशा में हो सकता है भारी नुकसान

मौसम विभाग के महानिदेशक एम. महापात्रा ने कहा कि इस तूफान (amphan) से ओडिशा में भारी नुकसान होने का अनुमान है क्योंकि यह तूफान (cyclone amphan) 1999 आए तूफान जैसा है, 1999 आए उस भयंकर तूफान ने लगभग 9000 लोगों की जान ले ली थी, मौसम विभाग ने पश्चिम बंगाल और ओडिशा के तटीय क्षेत्रों में ऑरेंज अलर्ट जारी किया है.

सेना और वायु सेना भी अलर्ट पर

इस तूफान से निपटने के लिए सेना और वायुसेना को भी अलर्ट पर रखा गया है, वायु सेना के सी-131 विमानों को भी अलर्ट पर रखा गया है और जरूरत पड़ने पर सेना की भी मदद ली जाएगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here