बिहार में फूटा कोरोना बम, अब हर दिन 20 हजार सैंपल की होगी जांच

0
299

नई दिल्ली/सूनैना गुप्ता। देशभर में कोरोना मरीजों की संख्या लगातार बढ रही है. बात बिहार की करें तो बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे के दफ्तर के 6 कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. इनमे सचिव, डाटा एंट्री ऑपरेटर, कंप्यूटर ऑपरेटर आदि लोग शामिल हैं. सभी कर्मचारियों को होम क्वारटींन किया गया है.

ये भी पढ़ें राजस्थान में सरकार गिराने की साजिश हुई – रणदीप सिंह सुरजेवाला

बिहार के बढते मामलों को देखते हुए सीएम नितिश कुमार राज्य में हर रोज 20 हजार सैंपल की जांच का निर्देश दिए हैं. अभी राज्य में रोजाना 10 हजार मरीजों की जांच की जा रही है. नितिश कुमार ने यह निर्देश दिए हैं कि कोरोना के लक्ष्ण वाले, ज्यादा संक्रमण वाले लोगो की जांच की जाए. और आपको बता दें कि राज्य के सभी जिलों में कोरोना की जाचं शुरु कर दी गई है.

ये भी पढ़ें Breaking : भारत में कोरोना वायरस के मामलों की संख्या 10 लाख के पार

बिहार में कोरोना का कुल आकड़ा बढकर 21558 हो गया है. हालांकि राहत की बात यह है राज्य में 13553 लोग ठीक हुए है. राज्य की रिकवरी रेट 65.41 फीसदी हो गया है. राज्य में अब तक 167 लोगो की मौत हो गई है.

ये भी पढ़ें Breaking : रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह दो दिवसीय दौरे पर लेह के लिए रवाना हुए

कोरोना के बढते मामलों को देखते हुए पूरे देश के साथ-साथ बिहार में भी आइसोलेशन सेंटर के रुप में इस्तमाल किए जाने वाले रेल कोच की सेवा दी जा रही है. इस सेवा के तहत बिहार के 15 स्टेशनों पर 20-20 की संख्या में कुल 300 आशोलेशन कोच खड़े किए जांएगे. ये आइसोलेशन बिहार के पटना, सोनपुर ,नरकटीयागंज, जयनगर, रक्सौल, बरौनी, मुजफ्फरपुर, सहरसा, सीवान, समस्तीपुर, दरभंगा, सीतामढी, छपरा, कटिहार, एंव भागलपुर, खड़े किए जाएंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here