दौड़ा दौड़ा पर पीटने वाले SDM को सीएम योगी ने किया निलंबित, वायरल वीडियो यहां देखें

0
260
CM Yogi suspends SDM

नई दिल्ली/आशीष भट्ट। कल बीते शाम सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो गया, वीडियो में बलिया के एसडीएम लोगों को दौड़ा दौड़ा पर पीटते नजर आ रहे हैं, जिसकी चौतरफा आलोचना हो रही है लोग योगी सरकार को घेरने में लगे हैं, लेकिन यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने बलिया के बेल्थरा रोड में लोगों को दौड़ा-दौड़ाकर पीटने वाले एसडीएम को सस्पेंड करने के आदेश दिए हैं, सीएम का आदेश मिलते ही उन्हें निलंबित कर दिया है, एसडीएम की पिटाई से कई लोग गंभीर रूप से घायल हो गए थे, एक दुकानदार का तो हाथ ही फट गया था. पहले आप वीडियो देखें.

मालूम हो कि बलिया जिले की बिल्थरारोड तहसील के पास गुरुवार को एसडीएम अशोक चौधरी ने सोशल डिस्टेसिंग व मास्क का प्रयोग नहीं करने वालों के खिलाफ अभियान शुरू किया, पुलिस के साथ पहुंचे एसडीएम ने सभी को घेर पर पीटना शुरू कर दिया, इसके बाद भगदड़ मच गयी, लोग इधर-उधर भागने लगे. सड़क से गुजरते समय बाइक सवार लोगों पर लाठी बरसाई गई यहां तक की एसडीएम की पिटाई से एक युवक का हाथ भी फट गया और खून बहने लगा.

मामला सोशल डिस्टेंसिंग का बताया जा रहा है, दरअसल बलिया के बेल्थरा रोड के पास जब एसडीएम पुलिस बल के साथ के पहुंचे तो वो लोगों पर मारने पीटने लगे, यहां तक की लोगों को दौड़ा दौड़ा कर पीटने लगे. लोगों के मास्क लगाने पर भी उन्होंने उनका नहीं छोड़ा उनको भी भगाभगा कर पीटने लगे. इसी भागा दौड़ी में कई लोगों को गंभीर चौटे भी आई, हालांकि सीएम योगी ने एसडीएम को सस्पेंड करने के आदेश दिए. और कार्रवाई शुरू हो चुकी है.

वीडियो में आप देख सकते हैं कि एक दुकानदार ने मास्क लगा रखा था, जबकि दूसरे ने अपने मुंह पर रुमाल बांध रखा था, एक युवक मास्क लगाए खड़ा है उसे भी एसडीएम दौड़ाकर लाठियों से पीटते दिख रहे हैं. लोगों का कहना है कि सोशल डिस्टेसिंग का पालन नहीं करने व मास्क नहीं लगाने पर जुर्माना व महामारी अधिनियम के तहत कार्रवाई करने का प्रविधान है ऐसे में एसडीएम द्वारा लोगों को लाठियों से पीटना पूरी तरह से गलत है.

व्यापारियों में है भयंकर गुस्सा

इस मामले को लेकर व्यापारियों में गुस्सा है, मामले को तूल पकड़ने के भी आसार दिख रहे हैं, इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वॉयरल होते ही एसडीएम पर सवाल खड़े होने शुरू हो गए थे, इस मामले से व्यापार मंडल, अधिवक्ता व अन्य लोगों में नाराजगी है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here