चिकन से फैल सकती है नई महामारी, हो सकता है आधी दुनिया को खतरा – ‘अमेरिकी साइंटिस्ट का दावा’

0
287
Chicken may spread, new epidemic may threaten half the world - 'American Scientist claims'
Chicken may spread, new epidemic may threaten half the world - 'American Scientist claims'

नई दिल्ली/काजल गुप्ता। अमेरिका के एक मशहूर साइंटिस्ट माईकल ग्रेगर ने दुनिया को हैरान करने वाली चेतावनी दी है। साइंटिस्ट माईकल ग्रेगर ने चेतावनी देते हुए कहा कि चिकन फार्म्स में से ऐसे वायरस निकल सकते है जो कोरोना वायरस से भी बड़ा संकट पैदा कर सकते है और उस वायरस से आधी से ज्यादा दुनिया को खतरा हो सकता है। इंसानों के सिर्फ वेज खाने की सलाह देने वाले साइंटिस्ट माईकल ग्रेगर ने अपनी नई किताब महामारी के दौरान खुद को कैसे बचाएं में कहा है कि बड़े स्तर पर चिकन फार्मिंग होने से खतरा बहुत बढ़ गया है। साइंटिस्ट माईकल ग्रेगर का कहना है कि चिकन फार्म्स से निकलने वाला वायरस बहुत खतरनाक साबित हो सकता है दुनिया के लिए, इससे आधी से ज्यादा दुनिया को खतरा हो सकता है।

ये भी पढ़े क्या 1 जून से लागू होगा लॉकडाउन 5.0? मोदी शाह की अहम बैठक.

साइंटिस्ट माईकल ग्रेगर की भविष्वाणी से जुड़ा फिलहाल कोई सबूत सामने नहीं आया है और ना ही किसी साइंटिस्ट ने उनके दावे की पुष्टि की है। लेकिन साइंटिस्ट माइकल ग्रेगर का कहना है कि इंसान का जीवो से ज्यादा नजदीकी संबंध ही उनकी जिंदगी के लिए खतरा पैदा कर रहा है।

हालांकि अब तक यही माना जा रहा है कि कोरोना वायरस चमगादड़ या किसी अन्य जीव के सेवन से इंसानों में फैला है और कोरोना वायरस के लिए चीन के वुहान में स्थित जीवों की मार्केट को जिम्मेदार समझा जाता है। रिपोर्ट डेली मेल के अनुसार अमेरिकी साइंटिस्ट माइकल ग्रेगर का दावा है कि चिकन फार्म से निकलने वाला वायरस कोरोना वायरस से कहीं ज्यादा बड़ा हो सकता है और इससे दुनिया की आधी आबादी नष्ट हो सकती है।

ये भी पढ़े Lockdown5.0 लगने की संभावना, पीएम मोदी कर सकते हैं मन की बात में ऐलान

माईकल ग्रेगर का यह भी कहना है कि इंसान मीट खाने से जीवो को खाने से वायरस को जन्म देता है। फिलहाल चिकन से वायरस फैलने पर किसी और साइंटिस्ट ने पुष्टि नहीं की है। लेकिन कोरोना वायरस फैलने के बाद कई देशों के जानकार ने दुनियाभर के जंगली जीवो के मार्केट को बन्द करने की मांग की है और कई देशों ने चीन से भी मांग करी है कि वो जंगली जीवों की मार्केट बन्द करे।
माईकल का नई महामारी पैदा होने को लेकर कहना है को सवाल ये नहीं कि ‘अगर ऐसा हुआ’ बल्कि सवाल ये है कि ‘ऐसा कब’ होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here