BPCL ने निजीकरण से पहले कर्मचारियों को VRS का दिया ऑफर

0
268
BPCL

नई दिल्ली/आर्ची तिवारी। पब्लिक सेक्टर कंपनी भारत पैट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड (BPCL) ने अपने कर्मचारियों को स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति का आॅफर दिया है। सरकार देश की तीसरी सबसे बड़ी तेल रिफाइनरी और दूसरी सबसे बड़ी ऑयल मार्केटिंग कंपनी के निजीकरण के बारे में सोच रही है। बीपीएल (BPCL) ने अपने कर्मचारियों को एक आंतरिक नोटिस भेजकर कहा है कि “कंपनी में VRS ऑफर करने का किया है।” यह ऑफर उन कर्मचारियों के लिए है, जो अपनी अलग-अलग व्यक्तिगत कारणों की वजह से कंपनी में काम करने की स्थिति में नहीं हैं। वे सभी इस ऑफर के सहारे स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति के लिए आवेदन पत्र भर सकते हैं.

राम मंदिर शिलान्यास समारोह में अयोध्या समेत पूरे देश में जल सकते हैं घी के दिए

आपको बताते चलें कि भारत पेट्रोलियम स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना-2020 (BPVRS-2020) 23 जुलाई को खुली गयी और वहीं 13 अगस्त को कंपनी इसे बंद कर देगी। सरकार ने BPCL में अपनी पूरी 52.98 फीसद हिस्सेदारी बेचने का निर्णय किया है। BPCL के अधिग्रहण के लिए रुचि पत्र (ईओआई) 31 जुलाई तक दाखिल किया जा सकता है.

BPCL के कर्मचारियों की संख्या 20,000 है। अधिकारी ने बताया कि 5 से 10 फीसद कर्मचारी वीआरएस (VRS) का ऑप्शन चुन सकते हैं। पीटीआई के पास उपलब्ध वीआरएस (VRS) से संबंधित नोटिस के अनुसार 45 साल की उम्र पूरी कर चुके कर्मचारी इस योजना के पात्र हैं। हालांकि, सक्रिय खिलाड़ी यानी किसी खेल की वजह से कंपनी में नियुक्त हुए खिलाड़ियों तथा बोर्ड स्तर के एक्जीक्यूटिव के पास इसे चुनने का विकल्प नहीं है.

NHAI ने अयोध्या के सौंदर्यीकरण के लिए दिए 55 करोड़ों रुपए

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here